Home Devotional इस हवनकुंड को Zoom कर के देखोगे तो दिखेगा ऐसा चमत्कार कि...

इस हवनकुंड को Zoom कर के देखोगे तो दिखेगा ऐसा चमत्कार कि नास्तिक भी बन जाएंगे आस्तिक

119
0
SHARE

दोस्तों इस दुनियां में दो तरह के लोग रहते हैं. पहले वो जो भगवान पर विश्वास रखते हैं और उनके चमत्कारों का मान सम्मान करते हैं. और फिर दुसरे वो लोग होते हैं जो भगवान पर विश्वास नहीं रखते हैं. इन लोगो का कहना होता हैं कि भगवान या चमत्कार जैसी कोई भी चीज नहीं होती हैं. लेकिन आज हम आप लोगो को 21वीं सदी का एक ऐसा चमत्कार दिखाएंगे जिसे देखने के बाद एक नास्तिक इंसान भी भगवान में विश्वास कर आस्तिक बन जाएगा.

दरअसल इस दिनों इन्टरनेट पर एक तस्वीर बहुत वायरल हो रही हैं. ये तस्वीर अपने आप में किसी चमत्कार से कम नहीं हैं. इस तस्वीर में एक हवन कुंड दिखाई दे रहा हैं. आमतौर पर हवन कुंड वो चीज होती हैं जिसमे पंडित लोग आहुतियाँ देते हुए भगवान का स्मरण करते हैं. ऐसा ही एक हवन मध्य प्रदेश के शहर ग्वालियर में चल रहा था कि तभी कुछ ऐसा चमत्कार दिखाई दिया कि खुद हवन करने वाले पंडित भी हैरान हो गए. जरा आप इस हवनकुंड की तस्वीर को ध्यान से देखिए. इसे अच्छे से Zoom कर के देखो आपको क्या नज़र आता हैं.

जैसा कि आप ने देखा इस हवन कुंड में एक ‘ॐ’ की आकृति बनी हुई हैं. ये ‘ॐ’ की आकृति हवन कुंड में अपने आप उभर के सामने आई हैं. दरअसल ग्वालियर के शताब्दीपुरम स्थित दंदरौआधाम में  165 कुण्डीय रुद्र महायज्ञ में हवन का कार्यक्रम चल रहा था. इस दौरान पांच हवन कुण्डियों में ये ‘ॐ’ की आकृति अपने आप ही उभर के सामने आ गई. हवन कुण्डियों पर बैठे यजमानो ने जब ये चमत्कार देखा तो उन्हें अपनी आँखों पर विश्वास नहीं हुआ. इसके बाद उन्होंने साबूत के तौर पर अपने मोबाइल से हवन कुंड पर बने इस ‘ॐ’ की तस्वीर खीच ली.

इसके बाद हवन कुंड क्षेत्र में परिक्रमा कर रहे अन्य लोगो ने भी इस चमत्कार को देखा. बस फिर क्या था धीरे धीरे कर के ये खबर पुरे क्षेत्र में फ़ैल गई. लोग बड़ी संख्या में इस चमत्कार को देखने आने लगे और ‘ॐ’ की आकृति वाले इस हवन कुंड में फूल चढ़ाकर पूजा पाठ करने लगे. भगवान के इस चमत्कार पर श्रीकृष्णायन देशी गौरक्षाशाला के महंत का कहना हैं कि हवन कुंड पर इस तरह की ‘ॐ’ की आकृति दिखना ये संकेत हैं कि हमारा यज्ञ पूरी तरह सफल हुआ हैं. भगवान हमरी पूजा अर्चना से प्रसन्न हुए हैं जिसका संकेत उन्होंने इस ‘ॐ’ की आकृति को पांच हवान कुंडो पर बना के दिया हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ये पूरा वाक्या बुधवार का हैं. इस दिन चन्द्र ग्रहण होने के कारण दंदरौआधाम पर सुबह 5 बजे से ही महायाग्य और पूजा प्रारंभ हो गई थी. इसके बाद दोपहर में 1 बजे जब ये यज्ञ अपनी समाप्ति के चरण पर था तो ‘ॐ’ की आकृति के दिखाई देने की बात सामने आई.

गौरतलब हैं कि भगवान आए दिन अपनी मौजूदगी को दर्शाने को लेकर तरह तरह के चमत्कार दिखाता रहता हैं. ऐसे में ये अद्भुत चमत्कार इन दिनों इन्टरनेट पर खूब वायरल हो रहा हैं. वैसे आपका इस बारे में क्या कहना हैं? क्या ये सचमच का चामत्कार हैं या फिर इसमें कुछ गड़बड़ हैं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here