Home Politics मैंने गांधी को क्यों मारा , नाथूराम गोडसे का अंतिम बयान जो...

मैंने गांधी को क्यों मारा , नाथूराम गोडसे का अंतिम बयान जो लोगों को ज़रूर जानना चाहिए :o

603
0
SHARE

महात्मा गांधी इतिहास के पन्नो में दफ़न को चुकी एक ऐसी शख्शियत है जिनके बारे में हर कोई बहुत ही अच्छे से जानता तो है लेकिन अभी तक उनके जिन्दगी से कुछ राज हिया जिन पर से पर्दा हट नही पाया है, उनकी हत्या भी कई दशको तक एक रहस्य ही बनकर के रह गयी और हर कोई बस सिर्फ जानने की कोशिश में ही रह गया कि नाथूराम नाम के इस आदमी ने गांधी की हत्या की तो आखिर क्यों की? क्योंकि हत्यारे के मन में कोई न कोई प्रतिशोध कोई न कोई कुंठा तो जरुर होती ही होती जिसके चलते वो इस तरह के काम को अंजाम देता है और ये चीज दशको तक छुपाई गयी थी

महात्मा गांधी की हत्या नाथूराम गोडसे ने की थी और इसके बाद उन पर अदालत में मुक़दमा चलाया गया तो उन्हें भी अपना पक्ष रखने का मौका दिया गया, जिस पर गोडसे ने बड़े ही शांत तरीके से इस बात का जवाब दिया कि उन्होंने गांधी जी की हत्या क्यों की?

नाथूराम गोडसे ने कहा कि गांधी जी से से मेरी कोई भी निजी दुश्मनी नही थी बल्कि उनके कई कामो की वजह से मैं उनका आदर भी करता था लेकिन उन्होंने समय के साथ ही मुस्लिम तुष्टीकरण के लिए देश की हिंदी भाषा को ही रौंद दिया, उन्होंने उस देश के दो टुकड़े करवा दिए जिस देश को हम सर माथे पर लगाते है जिसे हम पूजते है, गंधे अपने आप में ही कोर्ट बन गये थे और अपने आप में ही जूरी मुस्लिमो को खुश करने के लिए उन्होंने जिन्ना को पाकिस्तान दे दिया और हिन्दुओ को हर जगह समझौता करना पड़ा और ये सब कुछ मेरी बर्दाश्त से बाहर था इसलिए मेने शास्त्र उठाने का फैसला लिया और आखिर कार उनकी ह्त्या कर दी

नाथूराम ने कहा कि उसे अपने किये पर किसी तरह का कोई भी पछतावा नही है, जो कुछ भी किया देशहित में किया हिंदुत्व के लिए किया अगर गांधी रहते तो और बुरा होता

Check Video :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here